Home Breaking News परिवार के लोग ही समझ सकते हैं परिवार के सदस्यों का दुख दर्द… परिवारवाद पर पीएम मोदी को अखिलेश यादव का जवाब

परिवार के लोग ही समझ सकते हैं परिवार के सदस्यों का दुख दर्द… परिवारवाद पर पीएम मोदी को अखिलेश यादव का जवाब

0
परिवार के लोग ही समझ सकते हैं परिवार के सदस्यों का दुख दर्द… परिवारवाद पर पीएम मोदी को अखिलेश यादव का जवाब

पश्चिम में पहले चरण के मतदान के बीच बिजनौर पहुंचे सपा प्रमुख ने भाजपा पर निशाना साधा। अखिलेश यादव ने दिल्ली और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। परिवारवाद को लेकर पीएम मोदी के बयान पर अखिलेश यादव ने भी जवाब दिया। जनता को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा, यह चुनाव संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए है। उन्होंने जनता से पूछा कि क्या योगी सरकार में भ्रष्टाचार खत्म हो गया है। इस दौरान उन्होंने डबल इंजन सरकार का मतलब भी समझाया।Read Also:-नोएडा: जब अचानक वोट डालने पहुंच गये ‘योगी जी’, जिसने भी देखा वह धोखा खा गया, देखें वीडियो

अखिलेश यादव ने कहा, डबल इंजन सरकार का मतलब दोहरा भ्रष्टाचार है। जाति-धर्म से लेकर पारिवारिक मुद्दे तक पहुंच रही राजनीति पर भी अखिलेश ने जमकर जवाब दिया।अखिलेश यादव ने पीएम मोदी की वंशवाद की राजनीति वाली टिप्पणी पर कहा, हमें परिवार होने पर गर्व है।। परिवार का कोई भी सदस्य बैग लेकर भाग नहीं जाएगा और परिवार को पीछे छोड़ देगा। लॉकडाउन के दौरान अगर सीएम का परिवार होता तो वे मीलों पैदल चलकर अपने घरों तक पहुंचने वाले मजदूरों का दर्द समझते।

अखिलेश ने आगे कहा, मैं कहना चाहता हूं कि जिनके पास एक परिवार होता है वे ही एक परिवार का दर्द समझ सकते हैं, लेकिन वे लोग जिनके पास परिवार नहीं है वे एक परिवार का दर्द नहीं समझ सकते हैं। उन्होंने भाजपा के घोषणापत्र पर भी कटाक्ष किया। अखिलेश ने कहा- बीजेपी को अपने आखिरी घोषणापत्र के लिए दो मिनट का मौन रखना चाहिए क्योंकि वे पांच साल पहले किए गए वादों को पूरा नहीं कर सके।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

?>