Home Breaking News मेरठ: इकलास सैफी हत्याकांड, फेसबुक की दोस्ती ने बनाया प्रियांशु को हत्यारा, शारीरिक संबंध के लिए बनाया करता था दबाव,

मेरठ: इकलास सैफी हत्याकांड, फेसबुक की दोस्ती ने बनाया प्रियांशु को हत्यारा, शारीरिक संबंध के लिए बनाया करता था दबाव,

0
मेरठ: इकलास सैफी हत्याकांड, फेसबुक की दोस्ती ने बनाया प्रियांशु को हत्यारा, शारीरिक संबंध के लिए बनाया करता था दबाव,

मेरठ में 13 मई को इकलास सैफी (51 वर्ष) की हत्या ने मंगलवार दोपहर एक सनसनीखेज खुलासा किया। पुलिस लाइन घटना को लेकर एसएसपी प्रभाकर चौधरी और एसपी देहात केशव कुमार ने प्रेस वार्ता की।Read Also:-उत्तर प्रदेश : स्टंट की घटनाओं को देखते हुए एनएचएआई (NHAI) ने ईस्टर्न पेरिफेरल पर बढ़ाई सख्ती, अब इन वाहनों पर लगाई रोक

इकलास की हत्या में उसके बेटे ने गलत तरीके से प्राथमिकी दर्ज कराई थी। लेकिन, मोबाइल कॉल डिटेल और सीसी टीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने हत्याकांड में छात्र प्रियांशु को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी छात्र द्वारा बताई गई घटना की कहानी हैरान करने वाली है।

आम के बाग में मिली इकलास सैफी की लाश
13 मई को मेरठ के परीक्षितगढ़ में आम के बाग में एक व्यक्ति का शव मिला था। जिसकी सिर में गोली मारकर हत्या की गई थी । शव की पहचान जिला चिकित्सा जिला मेरठ के ग्राम कमालपुर थाना क्षेत्र के निवासी इकलास सैफी पुत्र नियाद अहमद के रूप में हुई थी। घटना के बाद मृतक के बेटे फतेह खान ने सादिक पर हत्या का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी। पुलिस ने सादिक को हिरासत में ले लिया, लेकिन उसने बताया कि मैंने हत्या नहीं की।

200 सीसी टीवी कैमरों के देखे गए फ़ुटेज
एसएसपी ने बताया कि एसपी देहात केशव कुमार और सीओ सदर देहात पूनम सिरोही घटना का खुलासा करने में लगे हुए हैं। पुलिस ने सबूतों के आधार पर जांच की। करीब 200 अलग-अलग जगहों पर लगे सीसीटीवी फुटेज देखे। जहां से पुलिस को सुराग मिला। पुलिस को मोबाइल की कॉल डिटेल में भी मदद मिली। मौके पर बीयर की बोतल भी मिली।

हत्या के आरोप में प्रियांशु गिरफ्तार
पुलिस ने बहलोलपुर थाना परीक्षितगढ़ निवासी प्रियांशु उर्फ ​​प्रयाग को हिरासत में लिया गया। जिसने हत्या की बात कबूल कर ली है। पुलिस ने आरोपी के पास से एक पिस्टल भी बरामद की है। आरोपी प्रियांशु का मोबाइल चेक करने पर उसके मोबाइल में लंबी चैट मिली। दिन के दौरान अधिकांश संदेश व्हाट्सएप और मैसेंजर में प्रियांशु और इकलास सैफी के बीच थे।

7 महीने पहले फेसबुक से दोस्ती की
प्रियांशु की उम्र करीब 21 साल है। जिसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि सात महीने पहले फेसबुक पर इकलास सैफी से दोस्ती हुई थी। दोनों के बीच लंबी बात चली। प्रियांशु बीए कर रहा है। आरोपी ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि इकलास जबरन शारीरिक संबंध बनाना चाहता था। उसने मना भी कर दिया। इस दौरान वो शराब की लत से परेशान होने लगा।

विरोध करने पर वह बदनाम करने की धमकी देने लगा। 12 मई की रात को भी उसने जबरन दुष्कर्म करने की कोशिश की। जहां मैंने पहले ही मन बना लिया था कि इकलास को मारना ही है। इसी के चलते तमंचे से गोली मारकर उसके माथे पर गोली मारकर उसकी हत्या कर दी।

फर्जी पाई गई नामजदगी
मृतक इकलास के बेटे फतेह खान ने सादिक निवासी परीक्षितगढ़ पर हत्या का आरोप लगाया था। जहां पुलिस रंजिश के चलते हत्या को मान रही थी। पुलिस ने सादिक से पूछताछ की तो वह हत्या में शामिल नहीं पाया गया।

सादिक ने बताया कि इकलास और उनके बेटे के पास ढाई लाख की केटीएम बाइक थी। 10 मई को सादिक ने बाइक मांगी और ले गया। इस वजह से फतेह खान ने सोचा कि सादिक ने मेरे पिता इकलास को कहीं महंगी बाइक के लिए तो नहीं मार डाला।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

?>