Home Breaking News किन्नौर भूस्खलन हादसा: देखिए कैसे जवानों ने मलबे में जिंदा मिले शख्स को बचाया

किन्नौर भूस्खलन हादसा: देखिए कैसे जवानों ने मलबे में जिंदा मिले शख्स को बचाया

0
किन्नौर भूस्खलन हादसा: देखिए कैसे जवानों ने मलबे में जिंदा मिले शख्स को बचाया

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में भूस्खलन के बाद राहत और बचाव कार्य जारी है। शिमला-किन्नौर राष्ट्रीय राजमार्ग-5 पर जूरी रोड के निगोसारी और चौरा के बीच अचानक पहाड़ टूट गया। इस हादसे के बाद सरकार की ओर से बताया गया है कि आईटीबीपी के जवानों ने इस भूस्खलन के बाद पहाड़ों के बीच फंसे एक और युवक को बड़ी मुश्किल से बचाया है. इस युवक को नुगुलसराय इलाके से रेस्क्यू किया गया है. सरकार की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक अब तक नौ लोगों को बचा लिया गया है और एक युवक की मौत हो गई है. बुधवार को भीषण भूस्खलन में 50 से 60 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है. उपायुक्त सादिक हुसैन ने यह जानकारी दी। फिलहाल भारतीय सेना, आईटीबीपी, एनडीआरएफ और पुलिस की टीमें बचाव अभियान में लगी हुई हैं। अभी भी कुछ भूस्खलन हो रहे हैं, लेकिन इस बीच बचाव कार्य जारी है।

https://twitter.com/ANI/status/1425401337601150980?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1425401337601150980%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.livehindustan.com%2F

यह जानकारी यहां के उपायुक्त आबिद हुसैन सादिक ने दी। सादिक ने पीटीआई-भाषा को बताया कि भूस्खलन के मलबे में हिमाचल प्रदेश सड़क परिवहन की बस दब गई। बस में 40 से ज्यादा यात्री सवार थे। बस किन्नौर के रिकांग प्यो से शिमला जा रही थी। किन्नौर के उपायुक्त ने कहा कि सेना, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और स्थानीय बचाव दल को बचाव कार्य के लिए बुलाया गया है. सादिक ने कहा कि पत्थर अब भी गिर रहे हैं, जिससे बचाव अभियान मुश्किल हो रहा है। युवक को रेस्क्यू किए जाने का एक वीडियो भी सामने आया है.

himachal pradesh landslide

यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से बात की और वहां भूस्खलन से उत्पन्न स्थिति का जायजा लिया और उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया. प्रधान मंत्री कार्यालय ने एक ट्वीट में कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किन्नौर में भूस्खलन से उत्पन्न स्थिति पर हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से बात की। प्रधानमंत्री ने वहां चल रहे राहत अभियान के लिए हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

हादसे के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी हिमाचल प्रदेश में भूस्खलन से पैदा हुए हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर से बातचीत की. गृह मंत्री ने भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) को हिमाचल प्रदेश सरकार को बचाव और राहत कार्यों में हर संभव सहायता देने का निर्देश दिया है। मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि शाह ने राज्य में भूस्खलन के बारे में जानकारी लेने के लिए मुख्यमंत्री से बात की। उन्होंने मुख्यमंत्री को स्थिति से निपटने के लिए केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here