Home Breaking News ग्रेटर नोएडा: हर 20 सेकेंड में दौड़ेगी पॉड टैक्सी, इंतजार नहीं करना पड़ेगा लोगों को

ग्रेटर नोएडा: हर 20 सेकेंड में दौड़ेगी पॉड टैक्सी, इंतजार नहीं करना पड़ेगा लोगों को

0
ग्रेटर नोएडा: हर 20 सेकेंड में दौड़ेगी पॉड टैक्सी, इंतजार नहीं करना पड़ेगा लोगों को
Unicode
Unicode

जेवर एयरपोर्ट, फिल्म सिटी और सेक्टर के लिए चलने वाली पॉड टैक्सियों का रंग अलग होगा। पॉड टैक्सी का एलिवेटेड कॉरिडोर प्राधिकरण के सेक्टरों के बीच यमुना एक्सप्रेस वे और 100 मीटर चौड़ी सड़क के बीच से गुजरेगा। इसकी ऊंचाई 12 मीटर होगी। वहीं, हर 20 सेकेंड में एक पॉड टैक्सी चलेगी, ताकि लोगों को इंतजार न करना पड़े।Read Also:-उत्तर प्रदेश चुनाव 2022: बीजेपी विधायक ने कान पकड़कर लगाई उठक बैठक, पांच साल में की गई गलतियों के लिए मांगी माफी, देखें VIDEO

हवाई अड्डे, फिल्म सिटी मनोरंजन पार्क आदि के लिए पॉड टैक्सी चलाई जाती हैं। ये तीनों चीजें यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में प्रस्तावित हैं। इसमें एयरपोर्ट का निर्माण शुरू हो गया है। इसे देखते हुए यमुना प्राधिकरण ने जेवर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी और उसके सेक्टरों को जोड़ने वाली पॉड टैक्सी चलाने का फैसला किया है।

POD Taxis to run in Gurgaon Soon | Goodbye Traffic Jams

प्राधिकरण ने केंद्र सरकार की संस्था इंडियन पोर्ट एंड रोपवे कॉर्पोरेशन लिमिटेड से अपनी डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की है। कंपनी ने यह रिपोर्ट यमुना अथॉरिटी को सौंपी थी। जो रूट बनाया गया उसका एक हिस्सा एयरपोर्ट प्रोजेक्ट में चला गया। उसके बाद इसे बदल दिया गया है। इस संबंध में मंगलवार को यमुना अथॉरिटी में अधिकारियों के साथ इंडियन पोर्ट एंड रोपवे कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों की बैठक हुई। इसमें प्राधिकरण ने कई संशोधन किए हैं। अब कंपनी इन सुझावों को डीपीआर में शामिल करते हुए अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। इसकी रिपोर्ट मिलने के बाद प्राधिकरण इसे बोर्ड की बैठक में ले जाएगा। बोर्ड में पास होने के बाद इसे सरकार के पास भेजा जाएगा। शासन की अनुमति के बाद टेंडर निकाले जाएंगे। संभव है कि मई में टेंडर निकाले जाएं।

कॉरिडोर के लिए दिए तीन सुझाव
कंपनी ने इस कॉरिडोर के लिए तीन सुझाव दिए थे। इस कॉरिडोर को सेक्टर रोड के किनारे से 60 मीटर सड़क के साथ और 100 मीटर सड़क के बीच ले जाने का विकल्प दिया गया है. प्राधिकरण ने इस कॉरिडोर को 100 मीटर सड़क के बीच से निकालने की सहमति दे दी है।

औद्योगिक क्षेत्रों की वजह से बढ़ी ऊंचाई
इस कॉरिडोर की ऊंचाई नौ मीटर रखी गई थी। यह कॉरिडोर औद्योगिक क्षेत्रों से होकर गुजरेगा। इसलिए इसकी ऊंचाई 12 मीटर कर दी गई है।

पहचान के लिए अलग रंग होगा
एयरपोर्ट और फिल्म सिटी और सेक्टर के लिए चलने वाली पॉड टैक्सियों का रंग अलग होगा ताकि लोग दूर से ही जान सकें। उदाहरण के लिए अगर एयरपोर्ट और फिल्म सिटी के बीच मेट्रो का रंग नीला है तो सेक्टर की पॉड टैक्सी का रंग पीला होगा।

146 टैक्सी की जरूरत पड़ेगी
पॉड टैक्सी हर 20 सेकेंड में उपलब्ध होंगी। इसके लिए 146 पॉड टैक्सियों की जरूरत होगी। भविष्य में इस समय को और कम किया जाएगा। हर तीन सेकेंड में पॉड टैक्सी चलाने के लिए 799 टैक्सियों की जरूरत होगी।

सीटों की संख्या बढ़ेगी
कंपनी ने हाल ही में आठ सीटर पॉड टैक्सी पेश की है। इसमें 13 लोग खड़े हो सकते हैं। प्राधिकरण ने इसकी क्षमता बढ़ाने को कहा है। ताकि अधिक से अधिक लोग एक साथ यात्रा कर सकें।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

?>