Home Breaking News एमपी में GAY ऐप से सेक्सटॉर्शन का गंदा खेल: किसी सुनसान जगह पर रिश्ता बनाने के लिए कॉल करना, फिर वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करना; गिरोह का हुआ भंडाफोड़

एमपी में GAY ऐप से सेक्सटॉर्शन का गंदा खेल: किसी सुनसान जगह पर रिश्ता बनाने के लिए कॉल करना, फिर वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करना; गिरोह का हुआ भंडाफोड़

0
एमपी में GAY ऐप से सेक्सटॉर्शन का गंदा खेल: किसी सुनसान जगह पर रिश्ता बनाने के लिए कॉल करना, फिर वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करना; गिरोह का हुआ भंडाफोड़

मध्य प्रदेश में GAY (समलैंगिक) डेटिंग और वीडियो चैटिंग ऐप से सेक्सटॉर्शन का मामला सामने आया है। ‘ब्ल्यूड”(Blued) नाम का यह ऐप अंतरराष्ट्रीय स्तर का है और इसे दुनियाभर में 10 मिलियन से ज्यादा डाउनलोड किया जा चुका है। गिरफ्तार आरोपी इसी एप पर प्रोफाइल बनाकर समलैंगिक युवकों को सुनसान जगहों पर बुलाकर संबंध बनाते थे। फिर वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करते हैं। वीडियो वायरल करने की धमकी देकर रूपये वसूल किये जाते थे। इस मामले में दो लोगों ने पुलिस से शिकायत की थी।Read Also:-वायरल वीडियो: दो ट्रेनों के बीच में जिंदगी और मौत के बीच फंसा घोड़ा, संकरे रास्ते के बीच भागते हुए बचाई अपनी जान!

इसके बाद पुलिस ने गुना से 6 लोगों के गिरोह को पकड़ा है। इनमें 2 नाबालिग भी हैं। बाकी 4 आरोपियों में 20 वर्षीय बंटी केवट, 21 वर्षीय टीकम साहू, 19 वर्षीय अनिकेत रजक और 29 वर्षीय नीरज राठौर हैं। चारों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस गैंग का एक ही बदमाश गे है।

ज्यादातर आरोपी सिर्फ 12वीं पास हैं
यह गिरोह अपने आसपास के समलैंगिक युवकों पर नजर रखता था। अगर किसी ने इस ऐप पर आईडी बना ली थी तो गैंग के सदस्य लोकेशन देखकर ही झांसे में ले लेते थे। शनिवार को शहर के दो युवकों ने इसकी शिकायत पुलिस में की थी। एप के जरिए दोनों युवकों से संपर्क किया गया। फिर सुनसान जगह पर कॉल कर वीडियो बनाकर पैसे मांगे।

गिरफ्तार आरोपी कोई काम नहीं करता था। वे भी ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं। इनमें से ज्यादातर सिर्फ 12वीं पास हैं। एसपी राजीव कुमार मिश्रा ने बताया कि राज्य में यह पहला ऐसा मामला है, जो सामने आया है।

यह वह ऐप है
प्ले स्टोर पर ‘ब्लूड’ (Blued)नाम का एक ऐप है। यह ऐप GAY लोगों के लिए डेटिंग और वीडियो कॉल के लिए बनाया गया है। इस ऐप के दुनियाभर में 10 मिलियन से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। इस ऐप के डिस्क्रिप्शन में लिखा है कि ऐप के जरिए आप दुनिया भर में 50 मिलियन से ज्यादा समलैंगिकों से संपर्क कर सकते हैं। इस ऐप के जरिए आपके आसपास के लोग आपके संपर्क में आ सकते हैं।

ये था ठगी करनेबक़ा तरीका
इस ऐप को इंस्टॉल करने से जैसे ही कोई व्यक्ति अपनी आईडी बनाता है, उसकी लोकेशन ऐप पर रजिस्टर्ड लोगों को दिखाई देती है। उस लोकेशन की मदद से ही लोग एक-दूसरे के संपर्क में आते हैं। इसका फायदा ब्लैकमेल करने वालों ने उठाया।

एप पर लॉग इन करने वाले अपने क्षेत्र के लोगों से संपर्क करते थे और उन्हें एक सुनसान जगह पर मिलने के लिए बुलाते थे। वहां उनके साथ संबंध बनाए गए और उनके वीडियो बनाए गए। फिर शुरू हुआ ब्लैकमेलिंग का खेल। इसी वीडियो के जरिए ब्लैकमेल कर पैसे की मांग की गई थी।

सामने आए दो युवक
एप के जरिए कितने युवकों को शिकार बनाया गया है, यह जानने के लिए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। फिलहाल यह बात सामने आई है कि बदनामी के डर से ठगी के शिकार लोग सामने नहीं आए। शहर के दो युवकों ने हिम्मत दिखाकर रिपोर्ट दर्ज कराई। इससे गिरोह का पर्दाफाश हो गया है। आरोपियों ने इन दोनों युवकों में से एक से सोने की चेन भी छीन ली।

आरोपियों में दो नाबालिग भी शामिल हैं। इन्होंने और भी कई युवकों से रूपये की वसूली है। राघोगढ़ में भी उसने एक युवक को फंसाकर 50 हजार रुपये वसूल किए थे। पुलिस गिरफ्तार आरोपित को न्यायालय में पेश करने की तैयारी कर रही है।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ेंTwitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

?>