Home Breaking News उत्तर प्रदेश के 1.50 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत: ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा- डिफॉल्टरों के कनेक्शन नहीं काटे जाएंगे, अधिकारी लोगों को बिल जमा करने के लिए प्रेरित करेंगे

उत्तर प्रदेश के 1.50 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत: ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा- डिफॉल्टरों के कनेक्शन नहीं काटे जाएंगे, अधिकारी लोगों को बिल जमा करने के लिए प्रेरित करेंगे

0
उत्तर प्रदेश के 1.50 करोड़ बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत: ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा- डिफॉल्टरों के कनेक्शन नहीं काटे जाएंगे, अधिकारी लोगों को बिल जमा करने के लिए प्रेरित करेंगे

उत्तर प्रदेश के 1.50 करोड़ बकाया बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर है। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा है कि चूक करने वाले छोटे उपभोक्ताओं के कनेक्शन नहीं काटे जाएंगे। बिजली विभाग के कर्मचारी डिफॉल्टरों के घर-घर जाकर उन्हें बिल जमा करने के लिए प्रेरित करेंगे। Read Also:-पूर्व सीएम कल्याण सिंह की मौत पर AMU के कुलपति के शोक संदेश पर घमासान, विरोध में कैंपस में पर्चे चिपकाए गए

राज्य में विद्युत निगम के 2.90 करोड़ उपभोक्ता हैं। शहरी क्षेत्र के 90 लाख उपभोक्ताओं में से 70 लाख उपभोक्ता बिल का भुगतान कर रहे हैं। 20 लाख शहरी उपभोक्ता बकाया हैं। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 1.85 करोड़ उपभोक्ताओं में से 1.30 करोड़ उपभोक्ताओं के बिल लंबित हैं।

ortho

ऊर्जा विभाग का घाटा 90 हजार करोड़ रुपये को पार कर गया है. इन सबके बावजूद ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों को बकाया बिलों के आधार पर छोटे उपभोक्ताओं के कनेक्शन नहीं काटने के निर्देश दिए हैं. हालांकि, ऊर्जा मंत्री ने सरकारी विभागों पर 25 हजार करोड़ रुपये के बकाया बिल पर कुछ नहीं कहा.

devanant hospital

उपभोक्ता बिल जमा कर सरकार का सहयोग करें
ऊर्जा मंत्री ने उपभोक्ताओं से कहा है कि सरकार आपको सस्ती बिजली देने में लगी हुई है. लेकिन इसके लिए आपको समय पर बिल का भुगतान भी करना होगा। ताकि व्यवस्था बेहतर हो सके। उन्होंने कहा कि बिल जमा कर हर कोई सरकार के अभियान में हिस्सा ले सकता है.

dr vinit new

शहरों में कनेक्शन काटने का चल रहा अभियान
एक तरफ ऊर्जा मंत्री बिजली कनेक्शन काटने से इंकार कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ लखनऊ समेत कई शहरों में लगातार कनेक्शन काटने का अभियान जारी है. दिलचस्प बात यह है कि इसमें भी टीम 10 से 20 हजार रुपये बकाया लेकर शहरी उपभोक्ताओं तक पहुंच रही है. जबकि लॉकडाउन के चलते कई लोगों का काम ठप हो गया था. ऐसे में महज दो तीन माह का बकाया 10 हजार रुपये से ज्यादा हो गया है. अगर कनेक्शन चार किलोवाट का है तो एक माह का बिल भी 10 हजार रुपए तक पहुंच जाता है।

advt.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here