Home देश उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) Raksha Bandhan : मेरठ से हैं तो इस रक्षाबंधन भाई को खिलाएं पंजाब स्वीट्स का मलाई घेवर और स्पेशल मिठाइयां

Raksha Bandhan : मेरठ से हैं तो इस रक्षाबंधन भाई को खिलाएं पंजाब स्वीट्स का मलाई घेवर और स्पेशल मिठाइयां

0
Raksha Bandhan : मेरठ से हैं तो इस रक्षाबंधन भाई को खिलाएं पंजाब स्वीट्स का मलाई घेवर और स्पेशल मिठाइयां

बहन चाहे जितनी भी दूर क्यों न हो इस खास मौके पर अपने भाई को राखी बांधने लिए मायके जरूर आती है। तो वहीं भाई के लिए भी ये त्यौहार उतना ही महत्वपूर्ण है जितना बहन के लिए।

Raksha Bandhan Sweets Recipes: रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) भाई-बहन के प्यार का एक अनूठा बंधन है। रक्षाबंधन का दिन भाई-बहनों के लिए बहुत खास होता है। बहन भाई को राखी (Rakhi) बांधकर उसके लिए अपना प्यार दर्शाती है तो वहीं भाई भी उम्र भर बहन की रक्षा करने का वादा करते हैं।

बहन चाहे जितनी भी दूर क्यों न हो इस खास मौके पर अपने भाई को राखी बांधने लिए मायके जरूर आती है। तो वहीं भाई के लिए भी ये त्यौहार उतना ही महत्वपूर्ण है जितना बहन के लिए। अगर किसी कारणवश बहन नहीं आती तो भाई राखी बंधवाने उसके ससुराल जाता है।

पंजाब

इस खास मौके पर भाई-बहन एक दूसरे को गिफ्ट (Gift) देकर अपना प्यार जाहिर करते हैं। जब एक मामूली सा धागा जब भाई की कलाई पर बंधता है तो भाई भी अपनी बहन की रक्षा के लिए अपनी जान न्योछावर करने को तैयार हो जाता है।

devanant hospital

 रक्षाबंधन पर बहनें कलाई पर राखी बांधने के बाद भाई का मुंह मीठा करवाती हैं। बहन चाहती है कि किसी स्पेशल और स्वादिष्ट मिठाई से भाई का मुंह मीठा कराएं ताकि भाई खुश हो जाए, लेकिन आजकल मिलावट के दौर में किस दुकान से मिठाई खरीदें यह तय करना थोड़ा मुश्किल हो जात है।  तो हम आपको बता रहे हैं मेरी शहर की एक ऐसी 30 साल पुरानी दुकान जहां आज भी स्वाद से समझौता नहीं किया जाता।

advt.

यह दुकान है मवाना रोड स्थित पंजाब स्वीट्स एंड फैमिली रेस्टोरेंट। क्षेत्र में वैसे तो सारी मिठाई की दुकानें खुल गईं हैं, जो तड़क भड़क से ग्राहकों को आकर्षित करना चाहते हैं, लेकिन पंजाब स्वीट्स पर ग्राहक उनकी मिठाई की क्वलिटी और स्वाद के लिए जाना पसंद करते हैं। मेरठ शहर का 30 सालों का विश्वास है पंजाब स्वीट्स। 

हालांकि समय के साथ पंजाब स्वीट्स ने भी खुद काे अपग्रेड है, लेकिन स्वाद और लोगों के विश्वास से समझौता नहीं किया। अब कोरोना काल में तो साफ सफाई और सेनेटाइजेशन का स्पेशल ख्याल रखा जाता है। 

food

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here